व्‍हाईट टी पीने के फायदे (Benefits Of White Tea)


सोचिए अगर चाय न होती तो, चाय नाश्‍ता कैसे होता, टी ब्रेक होता भी या नहीं और शाम को सब लोग किस बहाने मिल बैठते ! असल में चाय दुनिया भर में पानी के बाद सबसे ज्‍यादा पिया जाने वाला पेय है। इसका नाम सुनते ही फ्रेशनेस दिमाग में आ जाती है। संतुलित मात्रा में ली जाए तो चाय औ‍षधि है पर अगर लापरवाही की जाए तो यही चाय कई तरह की समस्‍याओं का कारण बन जाती है। चाय की दुनिया में आपने ग्रीन टी और ब्‍लैक टी तो जरूर पी होगी पर आज हम आपको बताने जा रहे हैं व्‍हाइट टी के फायदे।
क्‍या है व्‍हाइट टी
चाय की पत्ती केमेलिया सिनेन्सिस Camellia sinensis नामक पौधे की पत्तियां होती है। इन पौधों से हरी पत्तियाँ तोड़ी जाती है। फिर इन्हें प्रोसेस किया जाता है। प्रोसेसिंग की अलग प्रक्रिया के अनुसार व्हाइट टी , येलो टी , चाइनीज ग्रीन टी , जैपेनीज ग्रीन टी , वूलोंग टी तथा ब्लैक टी बनाई जाती है। प्रोससिंग के कारण ये पत्तियां जल्दी ख़राब नहीं होती। प्रोसेसिंग के कारण ही चाय की पत्ती काली हो जाती हैं जो ब्लैक टी होती है और जिसे हम उबाल कर पीते है।
वजन घटाने में कारगर है व्‍हाइट टी
ब्‍लैक या ग्रीन टी के मुकाबले व्‍हाइट टी वजन घटाने में ज्‍यादा कारगर है। इसके प्रतिदिन सेवन से आप अपना वजन कम कर सकते हैं। यह कैलोरी में कम होती है। इसके अलावा इसमें मौजूद पोषक तत्व शरीर के फैट को भी आसानी से बर्न करने में मदद करते हैं और आपको स्वास्थ्य समस्याओं से भी राहत प्रदान करते हैं।
नहीं बढ़ने देती फैट
व्हाइट टी प्रभावी रूप से नई वसा कोशिकाओं के गठन को रोकता है, जिन्हें एडिपोसाइट्स कहा जाता है। नई वसा कोशिकाओं का गठन कम हो जाने से वजन बढ़ना भी रुक जाता है। यह फैट को परिपक्व वसा कोशिकाओं से जोड़ता है और शरीर से अतिरिक्त फैट को खत्म करने में मदद करता है। इसे एंटी-ओबेसिटी भी कहते हैं। यह शरीर में वसा भंडारण को भी प्रतिबंधित करता है।
मेटाबॉलिज्म होता है बेहतर
व्हाइट टी में एंटीऑक्सीडेंट होता है जो आपके शरीर के मेटाबॉलिज्म को उत्तेजित करता है और इस प्रकार आपके शरीर के अतिरिक्त फैट को बर्न कर वजन को भी नियंत्रित रखता है।
नहीं लगती बार-बार भूख
व्हाइट टी में एंटीऑक्सीडेंट और फाइबर होता है जो आपकी भूख को नियंत्रित करता है और आपके भूख बढ़ाने वाले हार्मोन्स को भी काबू में रखता है जिससे आपको अस्वस्थ और अधिक फैट वाले खाने की इच्छा नहीं होती है।
फाइबर का बेहतर स्रोत
व्हाइट टी में उच्च मात्रा में फाइबर होता है जो आपके पेट को लंबे समय तक भरा रखता है। इसके अलावा फाइबर होने के कारण यह आपको जंक फूड्स या तैलीय खाद्य पदार्थो की क्रेविंग्स को भी कम करता है। ऐसे में फैट आपके शरीर में एकत्रित नहीं होता है।

चाय के विभिन्न प्रकार >>> यहाँ क्लिक कर जानें।

Share on Google Plus

About Website www.hindi.men