तमिल सुपरस्टार रजनीकांत और उनकी पार्टी नहीं लड़ेंगे 2019 का लोकसभा चुनाव


लोकप्रिय तमिल अभिनेता रजनीकांत ने रविवार को घोषणा की कि रजनी मक्कल मंडरम (फैंस क्लब) आगामी लोकसभा चुनाव नहीं लड़ेगा। रजनीकांत बहुत पहले राजनीति में आने की पुष्टि कर चुके हैं, लेकिन उन्होंने अब तक अपनी राजनीतिक पार्टी को लॉन्च नहीं किया है।

Rajinikanth in a statement has stated that his party or he will not be contesting in the Lok Sabha elections 2019. Also, he has mentioned that his photo or party symbol should strictly not be used for any propaganda. (File pic)
97 people are talking about this

उन्होंने मंडरम के जिला पदाधिकारियों के साथ बैठक के बाद जारी बयान में कहा कि वह आगामी चुनाव में किसी पार्टी का समर्थन नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि उनका लक्ष्य केवल तमिलनाडु विधानसभा चुनाव पर है। उन्होंने अपने प्रशंसकों को सलाह दी कि वे लोकसभा चुनाव में उसी पार्टी को वोट दें, जो राज्य में एक स्थिर सरकार देने के साथ ही राज्य की जल समस्या को स्थाई हल निकाल सके।
रजनीकांत ने सभी राजनीतिक दलों से चुनाव प्रचार के दौरान उनका और मंडरम का नाम, तस्वीर और ध्वज का उपयोग नहीं करने की भी अपील की।


आपको बता दें कि एमजी रामचंद्रन ने मुख्यमंत्री बनने से पहले कांग्रेस और डीएमके में 24-25 साल का सफर तय किया। रजनीकांत पर एक चैनल ने सर्वे कराया था, जिसमें उन्हें 16 फीसदी लोगों का समर्थन दिखा। एमजीआर और जया को 35-57 फीसदी तक वोट मिलते रहे हैं।



रजनीकांत के फिल्मी समर्थकों की तादाद कम नहीं है लेकिन चुनाव में द्रविड़ मुद्दा हावी रहता है। मैसूर में मराठी परिवार में जन्मे रजनी के लिए द्रविड़ राजनीति का विकल्प बनना कठिन है। वहां रामचंद्रन समेत कई दूसरे राज्यों से तमिलनाडु आकर बसे नेता सीएम बने हैं लेकिन वे सभी तमिल थे।  राज्य में कांग्रेस खस्ताहाल है तो भाजपा शुरूआत के लिए जगह तलाश रही है।
Share on Google Plus

About www.hindi.men