पंजीरी माखन मिश्री व पंचामृत बनायें जन्माष्टमी के लिए – Panjiri Makhan Mishri Panchamrit


पंजीरी Panjiri , माखन मिश्री Makhan Mishri और पंचामृत Panchamrit ये सभी चीजें श्रीकृष्ण को प्रिय हैं। कन्हैया के लिए भक्ति भाव से इन्हे घर पर बनायें और भोग लगाकर जन्माष्टमी के त्यौहार का आनंद उठायें।
यहाँ Panjiri ki recipe में आटे और धनिये दोनों तरह की पंजीरी बनाने की विधि बताई गई है। इसके अलावा पंचामृत बनाने का तरीका , माखन मिश्री बनाने का तरीका तथा मगज कतली बनाना भी बताया गया है।

पंचामृत बनाने का तरीका

Panchamrit prasad recipe

पंचामृत बनाने की सामग्री :

ताजा दही            1  चम्मच
दूध                    7 चम्मच
शहद                  2 चम्मच
घी                     1 चम्मच
मिश्री                  1 चम्मच

पंचामृत बनाने की विधि

इन सबको मिला लें। चाहें तो स्वाद के लिए मखाने मिला लें। इसमें तुलसी का पत्ता डालकर भगवान को भोग लगाएं। फिर इसे प्रसाद के रूप में सबको खिलाएं।

माखन मिश्री बनाने का तरीका

Makhan Mishri prasad banane ki vidhi

सामग्री

घर का बना बिना नमक का मक्खन    —  आधा कप
दरदरी कुटी हुई कुंजा मिश्री            —  चौथाई कप

विधि

मक्खन और मिश्री को अच्छे से मिला लें। श्री कृष्ण के लिए उनका प्रिय माखन मिश्री तैयार है। इसमें तुलसी का पत्ता रखकर भगवान को भोग लगाएं। प्रसाद के रूप में वितरित करें। जन्माष्टमी प्रसाद में माखन मिश्री का विशेष महत्त्व है।

आटे की पंजीरी बनाने का तरीका

Aate ki panjeeri ki recipe

आटे की पंजीरी की सामग्री

गेहूं का आटा               2  कप
देसी घी                   2  चम्मच
बूरा चीनी                   1  कप
इलायची               5  पिसी हुई
बादाम आदि सूखे मेवे  -अपनी पसंद से

आटे की पंजीरी बनाने की विधि

एक पेन में घी गर्म करें। इसमें आटा छानकर डाल दें। हल्का सा लाल होने लगे और खुशबू आने लगे तब गैस बंद करके ठंडा होने दें। इसमें बुरा चीनी और इलायची मिला दें। पसंद के हिसाब से सूखे मेवे की कतरन मिला दें।

धनिये की पंजीरी बनाने का तरीका

Dhaniye ki panjiri prasad banane ki vidhi
जन्माष्टमी के प्रसाद

धनिये की पंजीरी की सामग्री

पिसा हुआ धनिया            एक कप
देसी घी                      दो चम्मच
बूरा चीनी                   आधा कप
सूखे मेवे               अपनी पसंद से

धनिये की पंजीरी बनाने की विधि

एक पैन में घी गर्म करें। इसमें पिसा हुआ धनिया डालकर सेकें। खुशबू आने लगे और हल्का सा रंग बदलने लगे तब गैस बंद करके ठंडा कर लें। इसमें बूरा चीनी मिला दें। अपनी पसंद से इसमें सेके हुए मखाने , कसा हुआ नारियल , सूखे मेवे की कतरन आदि मिला सकते है। जन्माष्टमी के प्रसाद में पंजीरी जरूर बनती है।

मगज की कतली बनाने का तरीका

Magaj ki katli prasad banane ki vidhi

मगज की कतली की सामग्री

नारियल का बुरादा                डेढ़  कप
खरबूजे के बीज ( मगज )       आधा कप
शक्कर                               दो कप
पानी                                एक कप

मगज की कतली की विधि

एक पैन में नारियल का बुरादा सेक लें। इसे निकाल कर अलग रख लें। इसी पैन में खरबूजे के बीज भी तड़कने तक सेक कर अलग रख लें। इस पैन में शक्कर और पानी डालकर दो तार की चाशनी बना लें। नारियल बुरादा और मगज चाशनी में मिलाकर हिला लें। इसे एक थाली में हल्का सा घी लगाकर इसमें बर्फी की तरह जमा दें। ठंडा होने पर चोकोर कतली काट लें।
Powered by Blogger.