पनीर कैसे बनायें नर्म और स्पंजी – How to make paneer soft


पनीर Paneer बाजार में आसानी से मिल जाता है. लेकिन मिलावट और नकली दूध की खबरों की वजह से बाजार के पनीर का विश्वास कम सा हो गया है। अक्सर लोगों की यह भी शिकायत होती है कि घर पर बनाया हुआ पनीर सॉफ्ट और स्पंजी नहीं बनता । यहाँ नीचे दी गई विधि से आप जान सकते है पनीर कैसे बनायें सॉफ्ट और स्पंजी।
पनीर प्रोटीन का बहुत अच्छा स्रोत है। प्रोटीन के अलावा भी इसमें बहुत से लाभदायक तत्व होते है। आँखों के लिए , दिमाग के लिए , तथा लीवर के लिए भी यह बहुत लाभदायक होता है। इसमें लेक्टोस की मात्रा कम होती है अतः जो लोग दूध नहीं पी सकते उन्हें पनीर का उपयोग जरूर करना चाहिए। बच्चों को पनीर बहुत पसंद आता है। पनीर से कई तरह के स्वादिष्ट व्यंजन बनाये जा सकते है। पनीर की सब्जी कई प्रकार से बनाई जाती है जैसे कढ़ाई पनीर , पालक पनीर , मटर पनीर आदि। पनीर के पराठे या पनीर के पकोड़े भी बहुत चाव से खाये जाते है। इसके अलावा पनीर टिक्का या चिली पनीर भी बहुत पसंद किया जाता है।
पनीर को cottage cheese  भी कहते है। पनीर बनाने की विधि इस प्रकार है –

पनीर बनाने की सामग्री – Paneer ki samagri

दूध                                1  लीटर
दही                              डेढ़  कप

पनीर बनाने की विधि – Paneer Ki Vidhi

—  पहले से उबाल कर ठंडा किया हुआ दूध लें।
—  दूध को उबलने तक गरम कर  लें।
—  दूध उबल जाने के बाद गैस बन्द कर दें।
—  अब दो मिनिट बाद  इसमें डेढ़ कप दही डालें।
—  दही डालकर इसे दो मिनिट तक हिलाये।
—  थोड़ी देर में पनीर अलग होने लगता है। खटाई डालने के बाद दूध  को उबालने से पनीर पक कर हार्ड हो सकता है।
—  पनीर बनने के बाद इसे एक मलमल के सफ़ेद कपड़े से छान लें।
—  पनीर छानने के बाद इस पर एक गिलास ठंडा पानी डालें। ताकि पनीर पके नहीं।
—  मलमल के कपड़े से पनीर छानने के बाद हाथ से दबाते हुए पानी निकाल दें पांच  मिनिट के लिए लटका दें। इसे  ज्यादा देर लटकाने की
जरूरत नहीं है जैसा की अक्सर सभी करते हैं।
—  कपड़े में ही इसे थोड़ा चपटा करके इसे किसी हल्के वजन से दबाकर एक घण्टे के के लिए रख लें।
—  सॉफ्ट और स्पंजी पनीर तैयार है।
—  इसे कपड़े से निकाल कर  फ्रिज में रखें  और जब चाहें उपयोग करें।

पनीर बनाते समय ध्यान रखने योग्य बातें

—  फुल क्रीम दूध लेने से पनीर ज्यादा स्वादिष्ट , पोष्टिक व सॉफ्ट बनता है। टोंड मिल्क भी ले सकते है।
—  दूध को उबालकर गैस बन्द करके दही डालने से पनीर नरम व मुलायम है ।
—  पनीर छानने के लिए कपड़ा रंग निलकने वाला ना हो।
—  पनीर छानने के बाद एक गिलास ठंडा पानी डालने से पनीर के पकने की प्रक्रिया रुक जाती हैं व पनीर नरम रहता है।
—  दही से बनने वाला पनीर सॉफ्ट होता है तथा इससे दही के पोषक तत्व भी मिलते है।

पनीर बनाते समय बचे हुए पानी का उपयोग

—  पनीर बनाने के बाद बचा हुआ पानी बहुत पौष्टिक होता हैं इसे फेंके नहीं।
—   पनीर के बचे हुए पानी से आटा लगाए रोटियाँ नरम मुलायम बनेंगी।
—  पनीर के पानी को सब्जी की ग्रेवी में डाल सकते  हैं।
—  पांच माह से दो साल तक के बच्चो को दस्त लगने पर यह पानी देने से दस्त में आराम आता है।
Powered by Blogger.