अजवाइन पाचक घर पर बनाने की विधि – Ajwayan pachak ki Vidhi


अजवाइन पाचक Ajwain Pachak का एक अच्छे मुखवास की तरह भोजन के बाद उपयोग किया जाता है। इससे गैस , खट्टी डकार, अपच , जी घबराना या उलटी का सा मन करना आदि ठीक होते है। इसका स्वादिष्ट और चटपटा स्वाद सबको बहुत पसंद आता है।
यह अजवाइन और नींबू के उपयोग से बनाया जाता है। अजवाइन बहुत लाभदायक होती है। इसके उपयोग से पेट के कीड़े नष्ट होते है। यह ह्रदय के लिए हितकारी होती है। जोड़ों का दर्द और सूजन इसके उपयोग से कम होते है। अजवाइन के लाभ विस्तार से जानने के लिए यहाँ क्लीक करें
इसमें नींबू का उपयोग होता है। नींबू विटामिन और खनिज जैसे पोटेशियम , कैल्शियम आदि का बहुत अच्छा स्रोत है। इसमें लाभदायक एंटीऑक्सीडेंट होते है इसमें यह पाचन के लिए तथा प्रतिरोधक शक्ति बढ़ाने के लिए लाभदायक होते  है।
अजवाइन पाचक

अजवाइन पाचक बनाने की सामग्री – Ajwain pachak samagri

अजवायन                              50  ग्राम
नीम्बू का रस                            1  कप
काला नमक                           1  चम्मच
सेंधा नमक                          आधा चम्मच

अजवायन पाचक बनाने की विधि – Ajwain pachak vidhi

—  अजवाइन को बीनकर साफ कर लें।
—  नींबू का रस निकाल लें।
—  एक कांच के चौड़े मुँह के बर्तन में अजवाईन , पिसा काला नमक , सेंधा नमक व नींबू का रस डालकर मिलायें ।
—  अजवाइन नींबू के रस में डूबी होनी चाहिए।
—  दो दिन तक अजवाइन को इसी तरह नीबू के रस में रखे और बीच बीच में थोड़ा हिलाते रहें।
—  दो दिन बाद अजवाईन नीम्बू का रस सोख लेगी।
—  इस अजवाइन को प्लास्टिक शीट पर डालकर धूप में सूखा दें।
—  प्लास्टिक पर डालने के बाद दिन में एक दो बार हाथ से फैला दे इससे अजवाइन पाचक खुला खुला बनेगा।
—  दो से तीन दिन धूप में रखने से यह पूरी तरह सूख जाएगी।
—  पूरी तरह सूखने के बाद कांच की बोतल में भर कर ढक्कन लगा दें।
—  सुपाच्य चटपटा अजवाइन पाचक तैयार है।

अजवाइन पाचक बनाते समय ध्यान रखने योग्य

Ajwain pachak tips
—  किसी मेटल जैसे स्टाइल ,पीतल या एल्युमिनियम के बर्तन में अजवाइन व नींबू नहीं रखने चाहिए।
—  धूप में सुखाते समय धूल मिटटी नहीं आ जाये।
—  कन्टेनर में भरने से पहले अजवाइन को पूरी तरह सूखाकर भरने से लम्बे समय तक चलती है।
—  खाना खाने के बाद खाए भोजन आसानी से पच जायेगा।
Powered by Blogger.