जज बोले - लोकतंत्र खतरे में है

जज बोले - लोकतंत्र खतरे में है, और इनके घर से निकल रहा है वामपंथी नेता व् सांसद डी राजा

आपको पता है जैसे ही 4 जजों ने प्रेस  कांफ्रेंस किया उसके तुरंत बाद कांग्रेस के सभी नेता, जिग्नेश मेवानी, शेहला रशीद, प्रशांत भूषण जैसे लोग इन जजों के समर्थन में आ गए, आज सुप्रीम कोर्ट के 4 जज  मीडिया के सामने आये और वो भी अफ़ज़ल गैंग के कुख्यात वामपंथी पत्रकार शेखर गुप्ता के साथ, और ये जज कहने लगे की देश का लोकतंत्र खतरे में है, चीफ जज हमारी बात नहीं मानता, देश को बचाइए, देश खतरे में है

चलिए इन जजों के बारे में जानिये, ये लोग कौन है, इनकी पृष्टभूमि क्या है, पहले इन्होने क्या किया है ताकि आपको अंदाजा लग जाये की असल स्तिथि है क्या, ये सभी जज कांग्रेस के राज में जज बने थे, पहले आपको बताते है इनमे से एक जज जोसफ कुरियन के बारे में

ये जज मानसिकता से एक ईसाई कट्टरपंथी है, प्रधानमंत्री मोदी ने रविवार को एक कार्यक्रम रखा था तो इसने ऐतराज़ जताया की इसे तो रविवार को चर्च जाना है, मोदी को ईसाई विरोधी साबित करने की कोशिश की, मसलन जज साहेब के लिए काम नहीं बल्कि ईसाइयत यानि मजहब पहले है


अब आते है जस्टिस चमलेश्वर पर, ये वो जज है जो कांग्रेस के काफी करीबी माने जाते है और हाल ही में इन्होने आधार का भी विरोध किया था, कांग्रेस आधार का विरोध करती है, आपको बता दिए की आधार से भ्रष्टाचारियों की नींद उडी हुई है चूँकि उस से सबकुछ कनेक्ट किया जा रहा है, कई तरह के फर्जीवाड़े आधार से बंद हो चुके है


अब एक जज है जस्टिस गोगोई - ये असम का है और असम के पूर्व मुख्यमंत्री केशब चंद्र गोगोई का पुत्र है, केशब चंद्र गोगोई कांग्रेस के मुख्यमंत्री हुआ करते थे, और ये जज साहेब कोंग्रेसी मुख्यमंत्री के पुत्र है


और इन लोगों के साथ घूम रहा है शेखर गुप्ता जैसा अफ़ज़ल प्रेमी, अवार्ड वापसी गैंग का कुख्यात पत्रकार, और ये लोग कह रहे है की देश का लोकतंत्र खतरे में है, भैया 2018 का साल है 2019 में चुनाव है, अब ऐसे सभी लोग सामने आते रहेंगे, क्यूंकि 2019 में कांग्रेस को चाहिए सत्ता इसलिए अब लोकतंत्र इत्यादि सब खतरे में आएगा, ऐसा आपको समय समय पर बताया जाता रहेगा


अब इस स्तिथि को भी समझिये, कुछ दिन पहले दिल्ली में  माओवादी अर्बन नक्सली जिग्नेश मेवानी ने JNU के वामपंथियों और ईसाई मिशनरियों के लोगों के साथ रैली की थी, जिसमे उन सभी का कहना था की लोकतंत्र खतरे में है, और अब जज चेलमेश्वर का कहना है की लोकतंत्र खतरे में है, और इन जज साहेब के घर से निकल रहा है वामपंथी नेता डी राजा, अब आप अपने दिमाग का मात्र 1% इस्तेमाल कीजिये और स्तिथि को समझिये, लोकतंत्र नहीं  बल्कि कांग्रेस खतरे में है!
Powered by Blogger.